मिराभाईंदर मे प्राईवेट होटलो को बनाया गया कोरंटाइन सेंटर

मिराभाईंदर आयुक्त विजय राठौर

चतुर्भुजा शिवसागर पाण्डेय

हिन्द सागर मिराभाईंदर। मुम्बई के उपनगरीय क्षेत्र ठाणे से सटे मिराभाईंदर मे अचानक कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से वृद्धि हो रहा है। यहाँ पाजिटिव मरीजों की संख्या रोज लगभग 100 से 300 के आँकड़े को पार कर रही है। इस परिस्थिति पर काबू पाने के लिए मिराभाईंदर के नवनियुक्त आयुक्त विजय राठौर ने कुछ होटलो को किराया स्वरूप 2500 + जीएसटी मे कुछ नियम व शर्तों के साथ मरीजों के लिए कोरंटाइन सेटर बनाने का आदेश दे दिया है।


होटलो के नाम व रुम की संख्या

मिराभाईंदर के अंतर्गत आने वाले होटल हेरोटेज रिसोर्ट मे 24 रुम, हॉटेल समाधान मे 25 रुम, हॉटेल एस. ए. रेसीडेन्सी मे 24 रुम, जी.सी.सी. नॉर्थ साईड हॉटेल मे 40 रुम, हॉटेल शेल्टर मे 30 रुम, हॉटेल जया महाल मे (बंटास) 25 रुम, हॉटेल प्रसाद इंटरनेंशनल मे 22 रुम, हॉटेल व मेरीयाड मे 28 रुम, हॉटेल सनशाईन इन मे 36 रुम, हॉटेल सिल्व्हरडोअर मे 32 रुम, हॉटेल चेणा गार्डन मे 18 रुम, आनंद लॉजिंग ॲन्ड बोर्डिंग मे13 रुम, हॉटेल ॲक्वा रिजेंन्सी मे 23 रुम को प्रशासन द्वारा किराया स्वरूप में मरीजों के लिए उपलब्ध कराया गया है


नियम व शर्तें

इन होटलो को कोरंटाइन सेटर बनाने के लिए प्रशासन ने कुछ नियम व शर्ते बनायीं हैं जिसका सख्ती से पालन कराया जाएगा

1:- एक रुम मे केवल एक ही आदमी रहेगा। 2:- कोरंटाइन होटल मे प्रवेश करने के लिए प्रशासनिक नियम के अनुसार पहचान पत्र होना अनिवार्य है। होटल मे अपना समान स्वयं अपने रुम तक लेकर जाना होगा। 3:- डाँक्टर, स्वास्थ्य कर्मचारी तथा मरीज होटल के लाँवी एरिया, व्यायाम शाला, स्वीमिंगपूल व सार्वजनिक जगह का उपयोग नही कर सकते। 4:- हाउसकीपिंग सर्विस के अंतर्गत रुम की स्वच्छता, चाय/काँफी, मिनरल वाटर हर तीन दिन में बदली या पुनः उपलब्ध कराया जाएगा। 5:- स्नान के लिए तीन तौलिया व तीन छोटा तौलिया तथा वेड का चद्दर हर तीन दिन में बदला जाएगा। 6:- रुम मे उपलब्ध चाय तथा पानी पिने का बर्तन तथा हाउसकीपिंग से संबंधित उपलब्ध सामान प्रत्येक तीन दिन में बदला जाएगा। 7:- खाने-नहाने के अतिरिक्त आवश्यक कोई भी वस्तु होटल के हर फ्लोर पर उपलब्ध कराया जाएगा। 8:- लान्ड्री सर्विस की परवानगी नही रहेगी। 9:- खाना खाने का समय-नास्ता- सुबह से 10 तकदोपहर का खाना- 1बजे से 3 बजे तकरात का खाना- 8 बजे से 10 बजे तक रहेगा। मरीजों को शुद्ध शाकाहारी भोजन ही उपलब्ध कराया जाएगा। भोजन डिस्पोजल पेपर व पुर्व सूचना के अनुसार टिफिन उपलब्ध कराया जाएगा। होटल के अंदर नशाखोरी करना सख्त मनाही है। 10:- मरीजों के परिचित किसी भी व्यक्ति को रुम मे जाने पर पाबंदी रहेगा।

मिराभाईंदर के आयुक्त ने शहरवासियों को अपने सुविधानुसार मरीजों के लिए होटल का चयन करने तथा महामारी मे लाभ लेने की अपील किया है