फूड सेफ्टी वैन के माध्यम से लोगों ने करवाया खाद्य पदार्थों की जांच

हिन्द सागर, मेंहदावल, संतकबीरनगर: खाने-पीने की वस्तुओं में कोई मिलावट तो नहीं या खाने की चीज की गुणवत्ता कैसी है, इसकी जांच के लिए खाद्य विभाग की वैन सोमवार को क्षेत्र में पहुंची। टीम ने चांट और कचौड़ी की दुकानों पर प्रयोग हो रहे तेल की गुुणवत्ता को परखा। इसमें दो दर्जन से अधिक नमूने लिए लेकिन लखनऊ चाट कार्नर का खाद्य पदार्थ सबसे खराब रहा।

सोमवार को मेंहदावल नगर में खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता को परखने के लिए फूड सेफ्टी वैन ने मेंहदावल में दो दर्जन से अधिक दुकानों की खाद्य पदार्थो की जांच की । क्षेत्रीय खाद्य निरीक्षक राजमणि प्रजापति ने बताया की यह चल प्रयोगशाला वाहन ठाकुरद्वारा बस स्टैंड के पास में स्थित बालाजी की , अपना टेस्ट, वैभव स्वीटस का निरीक्षण किया जिसमें मानक के अनुरूप खाद्य पदार्थ मिले। दिल्ली छोला भटूरा सहित तमाम दुकानदारों के खाद्य पदार्थों की जांच की गई जिसमें लगभग सभी के खाद्य पदार्थ मानक के अनुरूप पाए गए कुछ खाद्य पदार्थों में मिलावट की आशंका पर उनको सुधार के निर्देश भी दिए गए। जैसे लखनऊ चाट सेंटर मैं तैयार किए गए चटनी में रंग होने की वजह से खाद्य कारोबार करता को तुरंत निर्देश देते हुए लगभग 4 लीटर चटनी को नष्ट कराया गया है और भविष्य में ऐसी गलतियां पाए जाने पर आने पर सख्त से सख्त कार्यवाही का ही निर्देश दिया गया है।