पोस्ट आँफिस मे 100 रुपए निवेश कर 5 साल में पाएं 20 लाख रुपए

हिन्द सागर, संवाददाता: अगर आप भी छोटा निवेश करके कम समय में लखपति बनने का सपना देख रहे हैं तो यह खबर आपके लिए है। दरअसल, डाकघर की ओर से आम जनता के पैसे को सुरक्षित रखने के लिए कई तरह की सरकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं। यह किसी अन्य बचत योजना की तुलना में अधिक लाभ भी देता है।

डाकघर योजनाएं एक सुरक्षित और बेहतर निवेश विकल्प है। पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम के तहत महज 100 रुपए की छोटी सी बचत आपको कुछ ही सालों में अच्छा रिटर्न दे सकती है।आइए जानते हैं पोस्ट ऑफिस की एक ऐसी योजना के बारे में, जिसके जरिए आप सिर्फ 5 साल में 20 लाख रुपए का फंड बना सकते हैं।

अगर आप पोस्ट ऑफिस स्कीम में छोटी रकम का निवेश करके बड़ा रिटर्न पाना चाहते हैं तो यह स्कीम आपके सबसे बेहतर है। नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC) स्कीम के जरिए सिर्फ 100 रुपए का निवेश करके आप पांच साल में 20 लाख रुपए कमा सकते हैं।

नेशनल सेविंग सर्टिफ‍िकेट यानी एनएससी भारत सरकार की गारंटीड इनकम इंवेस्‍टमेंट स्‍कीम है, जिसे आप किसी भी पोस्‍ट ऑफ‍िस ब्रांच में जाकर निवेश कर सकते हैं। वैसे आपको सालाना 1.5 लाख रुपए तक के निवेश पर ही आयकर की धारा 80 सी के तहत टैक्स छूट मिल सकती है। एनएससी में आपको सालाना 6.8 फीसदी रिटर्न मिलता है।

इंडिया पोस्ट एनएससी की ओर से पेश की गई एक समय परिक्षणित योजना एक निश्चित आय निवेश योजना है। आप किसी भी पोस्ट ऑफिस ब्रांच में एनएससी योजना खोल सकते हैं और यह भारत सरकार की पहल है जो इसे एक सुरक्षित विकल्प बनाती है। एनएससी एक बचत बांड है और मुख्य रूप से छोटे से मध्यम आय वाले निवेशकों को आयकर पर बचत करते हुए निवेश करने के लिए प्रोत्साहित करता है।

अगर आप कुछ सालों में बड़ी रकम कमाना चाहते हैं तो आप एनएससी का विकल्प चुन सकते हैं और आपका पैसा पोस्ट ऑफिस में पूरी तरह से सुरक्षित रहेगा। आप एनएससी में बिना किसी जोखिम के पैसा निवेश कर सकते हैं और योजना की परिपक्वता अवधि 5 साल के लिए तय है।

आप चाहे तो 1 साल के भीतर पैसे निकाल भी सकते हैं, लेकिन कुछ शर्ते लागू होती हैं। सरकार वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही की शुरुआत में ब्याज दरें निर्धारित करती है। आपको इस योजना में शुरुआत करने के लिए पहले 1000 रुपए जमा करना होगा। इसके बाद इस योजना में सिर्फ 100 रुपए प्रति माह से निवेश शुरू कर सकते हैं। यह योजना सालाना 6.8 प्रतिशत की ब्याज दर प्रदान करती हैं और आप आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत 1.5 लाख रुपए की कर छूट भी प्राप्त कर सकते हैं।