कल्याण-डोंबीवली मनपा ने मरीजों को ओवरचार्ज करने के लिए 16 अस्पतालों के खिलाफ की कार्रवाई

हिन्द सागर ठाणे। कल्याण और डोंबिवलीं क्षेत्रों में कोरोनोवायरस के मामलों की संख्या तेजी से बढ रही है। राज्य स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार क्षेत्र पहले ही 30,0 00 मामलों को पार कर चुका है। जहां सरकार वायरस के प्रसार को रोकने के लिए कई उपाय कर रही है, वहीं कल्याण ओर डोंबिवलीं में कुल 1 6 निजी अस्पतालों को चिंता का सामना करना पड़ रहा है क्योकि नगरपालिका द्वारा अस्पताल के अधिकारियों को कोरोनो वायरस संक्रमित रोगियों से अधिक पैसै वसूलने कीं शिकायतें मिली है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि इन अस्पतालों से एक बडी राशि बरामद की गई है और संबंधित रोगियों को वापस कर दी गई है । अस्पताल मरीजों को कोरोना वायरस उपचार के बाद अत्यधिक बिल का भुगतान करने के लिए कह रहे थे। यह जानने के बाद, कल्याण डोंबिवलीं नगर निगम ( केडीएमसी ) ने तेजी से उस पर कार्यवाई किया।

अधिकारियों द्वारा संबंधित अस्पतालों से स्पष्टीकरण प्राप्त करने के बाद, नगरपालिका ने अतिरिक्त बिल राशि वापस कर दी । यह देखा गया कि अस्पतालों ने कुल बिल राशि की तुलना में । क्या रू 49,9 3,679 का शुल्क लिया है । जिनमें से रू 24,79 ,000 वापस कर दिए गए है। इसके अलावा शेष राशि अभी भी संबंधित अस्पतालों से बरामद नही की गई है।

कुछ दिनों पहले लिए गए एक फैसले में, केडीएमसी ने निजी कोविड-19 अस्पतालों में से एक के लाइसेंस को निरस्त कर दिया था क्योंकि अस्पताल न केवल रोगियों से अधिक शुल्क ले रहा था, बल्कि बिस्तरों का एक अलग रिकॉर्ड भी बनाए हुए था ।