रिपोर्ट कार्ड सही नही : छह मंत्रियो की छुट्टी संभव

 

राजू चारण

हिन्द सागर बाड़मेर। पिछले दो साल से कोराना भड़भड़ी के चलते अशोक गहलोत सरकार के मंत्री संत्री कोई खास मुकाम, बदलाव या फिर अपने अधीन प्रभारी जिलों में कोई खास मुकाम हासिल नहीं कर पाएं,इस कारण से मुख्यमंत्री बेहद गंभीर मुद्दों पर भी समय समय पर अपने अधीन अधिकारियों और कर्मचारियों में सरकार की योजनाओं को अमलीजामा पहनाने में कहीं कहीं पर सरकारी लालफीताशाही हावी होने से आमजन को राहत देने वाली स्कीमें एक तरह से ठप्प हो गई थी।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आमजन को राहत देने वाले अधिकारियों से अपने स्तर पर सभी मंत्रीमंडलीय मंत्रियों का रिपोर्ट कार्ड मंगवाया ओर सरकार के कामकाज पर संतुष्ट होने या फिर नहीं , जिले में आमजन से भी इस सम्बन्ध में ज्यादा जानकारियां जुटाई गई। मिलीं जानकारों के आधार पर खराब रिपोर्ट कार्ड के आधार पर गहलोत मंत्रिमंडल के छह मंत्रियो को बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है ।

इनमे तीन केबिनेट मंत्री तथा इतने ही राज्य मंत्री शामिल है । जिनकी छुट्टी होने की संभावना है उनमें प्रमोद जैन भाया, हरीश चौधरी और उदय लाल आंजना का नाम सर्वोपरि है । राज्य मंत्रियो में भजनलाल जाटव, राजेन्द्रसिंह और सुखराम विश्नोई शरीक है । रघु शर्मा और प्रतापसिंह खाचरियावास का विभाग बदले जा सकते है । जबकि सुभाष गर्ग और गोविंदसिंह डोटासरा की पदोन्नति होने की संभावना है । सचिवालय में मौजूदा मंत्रियो के रिपोर्ट कार्ड का पिछले सप्ताह भर से पोस्टमार्टम हो रहा है । तफसील से रिपोर्ट शीघ्र मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को भेजी जाएगी ।­