हाईकोर्ट एवं सुप्रीमकोर्ट के माननीय न्यायधीशों के खिलाफ 534 शिकायतें ढाई सालों में

● आरटीआई से हुआ उजागर
● 122 शिकायतें सुप्रीमकोर्ट के न्यायाधीशों की

● 412 विभिन्न हाईकोर्ट के न्यायाधीशों की
नया डॉक्यूमेंट 08-23-2020 07.40.46

हिन्द सागर न्यूज : विभिन्न हाईकोर्ट व सुप्रीम कोर्ट के माननीय न्यायाधीशों के खिलाफ, गत ढाई सालों में 534 शिकायते हुई हैं इसका खुलासा एक आरटीआई के जरिये हुआ है। भारत मे पिछले ढाई वर्षो में समूचे हाईकोर्ट व सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशो के खिलाफ भारत सरकार को कुल 534 शिकायतें मिली है इसमें 122 शिकायतें सुप्रीम कोर्ट न्यायाधीशो की है, बाकी 412 शिकायतें समस्त हाईकोर्ट न्यायाधीशो के खिलाफ होना बताया गया है। बता दें कि केन्द्रीय कानून मंत्रालय ने आरटीआई में यह जानकारी दी है.

  ज्ञात हो कि सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशो के खिलाफ की गई शिकायतों में 52 शिकायतें ऐसी है, जो ऑनलाइन की गई है, वहीं 70 शिकायतें ऑफलाइन भेजी गयीं। वहीं पर हाईकोर्ट के  न्यायाधीशो के खिलाफ 164 शिकायतें ऑनलाइन भेजीं गयी है जबकि 248 शिकायतें ऑफलाइन की गई हैं। सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशो के खिलाफ वर्ष 2018 में 62, वर्ष 2019 में 53 व  वर्ष 2020 में अब तक 06 शिकायतें मिली हैं, जबकि हाईकोर्ट के जजों के खिलाफ वर्ष 2018 में 204, वर्ष 2019 में 180 तथा  वर्ष 2020 में अभी तक 28 शिकायतें मिली हैं।  केन्द्र सरकार इन शिकायतों पर किसी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं करती है,  केंद्र सरकार इन्हें सीधे सुप्रीम कोर्ट अथवा संबंधित हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस को भेज देती है।  न्यायपालिका द्वारा इन शिकायतों पर की गई किसी भी प्रकार की कार्यवाही से केंद्र सरकार को अवगत नहीं कराया जाता है। जिस कारण शिकायतकर्ता को शिकायत पर की गई कार्यवाहियों की कोई विश्वसनीय जानकारी प्राप्त नहीं होती है। इसका खुलासा एक आरटीआई के माध्यम से हुआ है।